टाउन डेवलपमेंट

किसी भी नगर का उचित तरीके से विकास करना एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है जिसे उस क्षेत्र के नगर निगम द्वारा पूरा किया जाता है। इसमें समाविष्ट है:

  • उच्च वृद्धि वाणिज्यिक भवनों एवं लेआउट को निर्माण की अनुमति प्रदान करना
  • उच्च वृद्धि और वाणिज्यिक भवनों की निगरानी करना
  • निजी परिसर पर होर्डिंग लगाने की अनुमति देना
  • डी. सी. आर के आधार पर वास्तुकार/अभियंता/संरचनात्मक डिज़ाइनर इत्यादि की पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करना
  • प्रदर्शनियों, मेलों आदि के लिए अस्थायी संरचनाओं की स्थापना के लिए अनुमति देना
  • दूरसंचार टॉवरों की स्थापना के लिए अनुमति देना